भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग ने ताजमहल सहित अन्य स्मारक की ऑनलाइन टिकट सिस्टम में बदलाव किया है. अब एक बार में ऑनलाइन पांच टिकट ही बन सकेंगे. टिकट पर पर्यटक का नाम और आईडी नंबर भी दर्ज होगा. टिकटों की कालाबाजारी और पर्यटकों की परेशानी के चलते एएसआई ने यह कदम उठाया है. मगर ताजमहल पर पर्यटकों की कैपिंग अभी भी 5000 ही रखी है.

एएसआई ने कोरोना संक्रमण की वजह से 188 दिन तक ताजमहल और आगरा किला बंद रखा. 21 सितंबर को ताजमहल और किला पर्यटकों के लिए अनलॉक किया गया. कोरोना प्रोटोकॉल से ताजमहल पर कैपिंग सिस्टम बनाया है. दो शिफ्ट में 5000 हजार पर्यटकों को ताजमहल में एंट्री दी जाती है. वीकेंड पर लगातार ताजमहल देखने वाले पर्यटकों के टिकटों की मारामारी हो रही है.

लड़के टिकटों की कालाबाजारी कर रहे थे. इसको लेकर लगातार शिकायतें आ रही थीं. पर्यटकों की समस्या देखकर एएसआई ने दिल्ली मुख्यालय को ताजमहल पर पर्यटकों की कैपिंग बढ़ाने और ऑनलाइन टिकट में बदलाव करने की मांग की थी.

एक बार में नहीं बनेंगें पांच से ज्यादा टिकट

एएसआई के अधीक्षण वसंत कुमार स्वर्णकार ने बताया कि, ऑनलाइन टिकटों की बुकिंग में अब पर्यटकों को अपना नाम दर्ज करना होगा. परिवार के मुखिया या ग्रुप लीडर का पहचान पत्र नंबर भी दर्ज करना होगा. एक बार में पांच से ज्यादा टिकट नहीं बनेंगे. एएसआई की ओर से अब ऑनलाइन टिकट के लिए आईडी दर्ज करनी होगी. ताजमहल की ऑनलाइन टिकट के लिए पहचान पत्र (आईडी) को निश्चित कर दिया है.

ऑनलाइन टिकट के लिए एएसआई की वेबसाइट और एप पर टिकट बनाते समय आधार कार्ड, पासपोर्ट, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड और अन्य तमाम पहचान पत्र का नंबर लिखना होगा. टिकट पर पर्यटक का नाम भी होगा, ताकि टिकटों की कालाबाजारी नहीं हो सके.

ऑनलाइन टिकट के साथ ही पर्यटकों को अब एंट्री के समय आईकार्ड भी दिखाना होगा.


Fatal error: Uncaught Error: Call to undefined function jnews_encode_url() in /home/bharatup/public_html/wp-content/plugins/jnews-social-share/class.jnews-select-share.php:225 Stack trace: #0 /home/bharatup/public_html/wp-content/plugins/jnews-social-share/class.jnews-select-share.php(358): JNews_Select_Share::get_select_share_data('facebook', false) #1 /home/bharatup/public_html/wp-content/plugins/jnews-social-share/class.jnews-select-share.php(65): JNews_Select_Share->build_social_button('facebook') #2 /home/bharatup/public_html/wp-includes/class-wp-hook.php(287): JNews_Select_Share->render_select_share('') #3 /home/bharatup/public_html/wp-includes/class-wp-hook.php(311): WP_Hook->apply_filters('', Array) #4 /home/bharatup/public_html/wp-includes/plugin.php(478): WP_Hook->do_action(Array) #5 /home/bharatup/public_html/wp-includes/general-template.php(3025): do_action('wp_footer') #6 /home/bharatup/public_html/wp-content/themes/Divi/footer.php(67): wp_footer() #7 /home/bharatup/public_html/wp-includes/template.php(730): in /home/bharatup/public_html/wp-content/plugins/jnews-social-share/class.jnews-select-share.php on line 225